RSS

हम तोह ऐसे है

16 Sep

वोह क्या है जो हमें अलग बनाता है? हमारी सभ्यता हमारे संस्कार या हमारी विशेषता? हम सारी दुनिया से निराले है. छोटी छोटी बातों पे हम एक दुसरे से लड़ते है. पर जब दुनिया से लड़ना हो, तो हम एक मुट्ठी बन जाते है. दुनिया में सबसे ज्यादा विद्वान हमारे देस मैं है, पर हम किसी को नीचा नहीं दिखाते. हम अतिथि देवो भव में विश्वास रखते है. पर प्रांती लोगो का हम सम्मान करते है, भले ही वोह उनके देस मैं हमारा अपमान करे.
हमारे लिए क्रिकेट और बॉलीवुड भगवान् के सामान है, पर अपना भारत भगवान् से बढ़कर. भारत में सबसे से ज्यादा जातियों के लोग बसते है, पर हम एक दुसरे का सम्मान करना जानते है. हम बदले मैं नहीं, माफ़ करने में विश्वास रखते है, शायद इसीलिए लोग हमारा फायदा उठाते है. इकनॉमिक मेल्त्दोवं के समय हम उन चन देशो में से हैं जो प्रगति कर रहे है, पर हम अब भी परदेस बसने के सपने देखते है. हमारे देस में हर एक जन को सपने देखने की इजाज़त है, भले ही वोह ऊँची जाती का हो या नीची.
ये दुनिया पहला देस है जहां हर जाती के व्यक्ति ने हमारे देस की सत्ता संभाली है, और हमने उससे स्वीकार किया है. क्यूंकि हम पहले हिन्दुस्तानी है और बाद में हिन्दू या मुस्लिम. हम अजीब है, हम अलग है, हम हिन्दुस्तानी है. हम जैसे हैं वैसे अच्छे है, और मुझे गर्व है की मैं अपने आप को एक हिन्दुस्तानी कह सकती हूँ.

Advertisements
 
Leave a comment

Posted by on September 16, 2009 in Uncategorized

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: